बड़े बड़े पहाड़ों के सामने खड़ी हुई चारों तरफ देख रही हूँ… उषा का अनुभव

गुरूजी आज की साधना भलीभांति पूर्ण हुई ।
मंत्र जप चलता रहा औऔर
मै बड़े बड़े सफेद पहाड़ों के सामने खड़ी हुई चारों तरफ देख रही हूँ तभी सामने लाल, ओरेंज
यलो ब्लू कलर आसमान में दिखाई दे रहे थे
और इसके तुरंत बाद वहां से सूर्य उदय होते हुए दिखाई देने लगा 🙏बहुत देर तक यह सुन्दर दृश्य में देखती रही
तभी वहां एक मन्दिर दिखाई दिया 🙏
मन्दिर धुंधला दिख रहा था
पर मन्दिर का शिखर और उस पर लहराती ओरेंज कलर की ध्वजा
स्पष्ट दिखाई दे रही थी 🙏
मै आगे बढ़ रही थी..
तभी 8 बजे का अलार्म बज गया गुरूजी 🙏
🙏आपका बहुत-बहुत धन्यवाद गुरूजी
मुझ पर कृपा दृष्टि बनाये रखने के लिए 🙏