देवी राज प्राप्ति साधना

मेरे बाजू में कोई खड़ा था और किसी के आस पास होने का एहसास हो रहा था…..Darshana panwala, gujarat, surat
guruji aaj ki sadhna bahot hi acchi rahi aap ne jaise hi sumeru ko mathe pe lagane ko bola to muje mahalaxmi ji ke green sadi pahni hui khadi thi aur lagatar sone ke sikke hath se ja rahe the aise darshan hue fir do ajubaju hatthi ke darshan hue fir sher ke upar ma bhagwati bethi hui dekhi mata bhagwati ko sone ke jule pe dekha fir !ramaji ke darshan hue fir bahot bada butterfly ko udte hue dekha bramakamal ko dekha aur bahot bada shivling ke upar me wo kamal chada rahi thi shree yantra sone ka tha unke bhi darshan hue muje do bar koi aaspas chal rahe the aur mere baju me khade the aisa ehsas ho raha tha muje energy bhi bahot fil ho rahi thi piche gardan me bahot dard ho raha tha muje kabhi kandhe pe to kabhi gardan pe koi haat se sirhate mehsus ho raha tha aur 15mala ke baad dard turant gayab ho gaya fir last mala pe fir ma bhagwati ke darshan hue aur ma mere samne muskurake kuch keh rahi thi par muje yaad nahi hai guruji aaj ki sadhna me bahot bahot acchi anubhuti ho iske liye maine aap ka saktipat kiya tha tabhi maine aap se prathna ki thi ki meri sadhna me muje acchi anubhuti ho guruji tahe dil se aap kao pranam karti hu aap ka bahotbahot dhanywad

रात में नींद में भी मंत्र जाप चालू था…….. bhumika Babaria.
Ram ram guruji Muje esa laga ki me brahmand me hu.aur ek tej roshni me white bindu dikha.aur me usme chali gayi.ekdum tej prakash aankhe band ho jaye esi roshni.fir sathna k bad puri rat nind me mantra jap chalu hi tha.dhanyawad guruji.

मेरे पास में कोई कुछ बोल रहा था पर समझ कुछ नहीं आया….. darshanapanwala, gujarat, surat
guruji ram ram kal ki devi sadhna bahot acchi rahi kal sadhna shuru hote hi sarir me vibration chalu ho gaya kal mantra jap karte samay muje merie sarir se golden or white prakash niklte dekha muje teen bar aisa laga ki mere left side koi bol raha hai par samaj nahi pai fir maine mata baglamukhi ke aur ganpatiji ke aur shiv ling ke darshan kiye mai ne badrinath ke darshan kiye mai waha bethi thi aur mantra jaap kar rahi thi or ha guruji maine kal himlay ke barfile aur golden pahad bhi dekha kal muladhar manipur aur anahat chakra ko lagatar gol gol gumte hue mahsus kiya guruji energy ka flow bahot ho raha tha aur third eye pe bahot dabav ho raha tha abhi bhi bahot chhakar aa rahe he guruji pliz acch kar dijiye mera man subah se bahot khush hai guruji muj par mere parivar par aisi hi kripa banaye rakhna aurmeri beti bhumika ko bhi mere sath bahot acchi anubhuti ho rahi hai wo bhi bhej rahi hu guruji bhumika aur uske parivar par apni kripa banaye rakhna aap ka bahot bahot dhanywad

देवी माँ ने सर पर हाथ रखा ऐसा अनुभव हुआ….. Hemangini
Koti koti Pranam Guruji 🙏🏻🙏🏻🌹🌺💐 Guruji aapke diye huwe vidhanse Raaj prapti sadhna dusare navratrase start ki he 🙏🏻mantra jaap me kal budhvaar ko 2 se 3 baar bahot force me energy flow huwa 🌺muje Maata rani be chhu liya ho wese sir Pe haath rakhha ho esa feel huwa.. Pahele 3 din tabiyat thik nahi thi jaap shuru hote hi sab gayab ho gaya, gharme chhoti bahes bandh ho gai ..heart chakra me bahot zyada pain n gol gol ghumata ho n kuch chal rahaho wese feel hota he 🙏🏻me aapke sath sadhna nahi kar pai 3 din to baar baar Rona Aa raha tha , mere kuchh karm rahe he ji aapke sath nahi kar Pai 🙏🏻🙏🏻aapke vani aur shaktipaat miss kar rahi Hun 🙏🏻🙏🏻muj par daya aur kripa karna Guruji 🙏🏻meri sadhna safal ho muje ashirvad dijiye Guruji (21/10/20)

देवी के विशाल रूप में दर्शन हुए देवी प्रसन मुद्रा में थी….. Prasannakumar, Kolhapur-MH
🙏Ram Ram Guruji. 🙏Ram Ram didi. Koti koti naman. Mata Vaishno Devi upsana karta hu. Lagatar 11 years Mata Rani darshan karane jata raha. Jaise navaratri shuru hui, tabse har din badi badi aankhe, kumkum ka tilak, mohak aankhe, aankho ke samane bar bar dikhai de rahe the. Kal rat sadhna karte samay, bahot bahot tej safed color ki roshani third eye pe dekhai padi. Dekhane ki koshish ki to usme se deviji ke darshan huye. Kuch hi der me, samane tambe ( copper) ka kalash dikhai pada. Kalash bilkul aankho ke samane hi tha. Kalash ke upar nariyal tha. Usme se roshani failati gayi, aur ek divya deviji ke vishal rup ke darshan huye. Badi prasanna mudra me Devi ji thi. Mata Rani ke darshan se chilhane laga, Mata rani jayjay kar kiya. Deviji ko bar bar naman karta raha. Guruji, aapka ki kripa aashirwad ka fal hai. Mantra sanjivani vidya se turant Devi devta se badi aasani se connect ho raha hu. Shiv guru ka dhanywad. Guruji aapka dhanywad. Mantra sanjivani vidya sikhane ke liya Shivpriya didi ka dhanyawad. Sabhi sadhak ko Ram Ram. 🍁🍁🍁

देवी साधना के समय यक्षिणी वृक्ष सामने आया…….. Prasannakumar, Kolhapur
Ram Ram Guruji. Koti koto naman. Kal rat Devi Sadhana karte samay, aankho samane Yakshini vraksh samane aaya, usek taraf khichata gaya. Patali surung se aage nikalkar Mata Vaishnodevi ki prakrutik gunfa, tin pindi ke darshan huye. Fir gunfa se bahar aane ke baad sher dikhai pada. Mann prasanna lag raha hai. Guruji aapka dhanywad. Shiv sharnam. Guru sharnam. 🌹🌹🌹

माता रानी ने मुझे छुआ मुझे गले लगाया……… Manisha Malik , delhi.
anubhav. —–. ram ram guruji🙏🙏🏼🙏🏻 Guru ji raat ek baar ekai dia ki mata rani ne mujhe chua mujhe gale lagaya ise jada koi anubav ni hua (20/10/20)

मेरी गोद में एक कन्या खेलती हुई दिखाई दी…… Manisha Malik, delhi.
anubhav. —–. ram ram guruji🙏🙏🏼🙏🏻 Guruji raat meri godh me ek kanya khelti hui dikhi di lal rang ke vestr pehne hue thi or ek madhumakhi pareshan kr thi kabhi meri mala pr kabhi mere pero pr chipk jati thi akhri mala me devi durga dikhai di ram ram guruji sadhna krane ke liye baot baot dhanyawad (21/10/20)

गुरूजी आप दिखाई दिए……. Manisha Malik, delhi.
anubhav. —–. ram ram guruji🙏🙏🏼🙏🏻 Guruji mujhe aap dikhai diye Ram ram guruji sadhana krane ke liye dhanyawaad charan spersh

आज्ञा चक्र पर बहुत दबाव महसूस हो रहा था….. Manisha Malik, delhi.
anubhav. —–. ram ram guruji🙏🙏🏼🙏🏻 Guruji aaj main maafi chahungi Aaj me anubhuti likhna bhul gai kiyoki main aaj ashtmi kr rahi thi raat ki saadhna me esa lga jese mata rani ne mere charo taraf chakar lagaiya ho or mujhe klave se band diya ho jb tk main mantr krti rahi meri agya chakra pr baot zada dbav pd raha tha jb tk main mantr kr rahi thi tb tak baot zada dbav pd raha tha Guruji aapka baot baot dhanyawad apna ashirvaad bnae rkhna charan spersh

कार्य क्षेत्र में सम्मान मिला…… KOMAL Bhatnagar, Delhi
Ram Ram Guruji. 🙏🙏aapke sath ek information share karna tha. Mein ek hi company mein 19 years se kaam kar rahi hoon Although salary milti hai but hardly any recognition or award mila hai. Recently mujhe recognition mila. Yeh milne par acha laga. Aapka abhar aur dhanyawaad.

पहले साधना में बैठने पर तकलीफ होती थी अब हल्का महसूस होता है…… KOMAL Bhatnagar, Delhi
Ram Ram Guruji 🙏🙏 Devi Sadhna 22 oct 20 Abhi tak ki Sadhna mein mujhe badthne mein taklife ho rahi thi. But Jitni hilana dulana 1st day tha who ab nahi hai. Mein moti hoon so at Times neeche bethnahi pati but abhi sukhasan mein Beth paati hoon. Mujhe koi diyvyaa Anubhuti nahi hui. But kuch alag si lightness lag rahi hai. Once or twice aisa laga jaise aasan koi jhatka laga since start of sadhna. Kripaya marg darshan kijiye. Aapka bahut abhar aur dhanyawaad.

पानी की आवाजे आ रही थी……… KOMAL Bhatnagar, Delhi
23 Oct 20 Kal ki Sadhna ache se hui. Mujhe forehead par kuch mahsoos ho raha tha. After some time heaviness in Head. But baad mein Sadhna ache se hui.kuch paani ki aawaz aa rahi thi.kal bethenny mein kuch ajeeb si pareshani ho rahi thi. But but Sadhna se kafi lightness lag raha hai. Man ka bhatkav bhi pahle se kam hai.kripya marg darshan kijiye. Mujhe lagta SHAYAD mere mein kuch kami hai mujhe Anubhuti nahin hui.. aap marg darshan kijiye.aapka bahut bahut abhar aur dhanyawaad

देवी का प्रचंड रूप महसूस किया……… Sonal Jain, Noida
Namah Shivay! 22nd October 2020. Devi Siddhi Sadhna ka anubhav main guruji se share karna chahti hoon. Aaj ki sadhna ke dauran maine pehle jaisa kabhi nhi mehsoos kia, devi ka prachand roop mehsoos kia laga sab khatam ho gya hai, bahut zyada bechaini mehsoos hui. Mantra apne aap mukh se tez tez nikal rhe the. Sar me dard bhi bahut zyada mehsoos kia. Main aaj dhyaan laga nh paai. Samay ke 40 minute bilkul pta nhi lage aur bitane me bhi bhaaripan laga. Aisa anubhav maine pehle baar kia. Mujhe abhi bhi bahut zyada bechaini ho rhi hai, garmi bhi lag rhi hai. Dhanywaad!

अनाहत और आज्ञा चक्र में बहुत बेचैनी महसूस हुई……….. Sonal Jain, Noida
Namah Shivay! 23rd October 2020. Devi Siddhi sadhna ke anubhav ko main guruji se share karna chahti hoon. Shareer bahut halka mehsoos hua aur poori sadhna ke dauran main bilkul sthir baithi rahin, koi bechaini bhi nh feel hui. Anahat aur Agya chakra me bhi bahut energy mehsoos hui. Dhanywaad!

मणिपुर चक्र में बहुत एनर्जी महसूस हुई……….. Sonal Jain, Noida
Namah Shivay! 24th October 2020.Devi Siddhi sadhna ke anubhav ko main guruji se share karna chahti hoon. Aaj sadhna ke dauran mann bilkul shaant rha, Manipura chakra me bahut energy mehsoos hui. Mujhe apne hathelio pe jahan kuch injury hui thi wahan bhi bahut energy mehsoos hui. Dhanywaad!

देवी माँ के गोद में सचमुच मैं बैठा हूँ………. नटराज हाजं, मेघालय
गुरुजी शत् शत् नमन्! आज देवी सिद्धि साधना पूर्ण होने के बाद लिए गया फटो, dt. 24/10/2020, आज का अनुभूति – मन्त्र जप शुरू होते ही ऐसा लगाकि देवी माँ दिव्य आसन पर मेरे सम्मुख बिराजमान है, साधना के दौरान मुझे ऐसा लगरहा था कि ब्रह्माण्ड में स्थित दिव्य कलस से पीला रंग की उर्जा के बरसात मुझपर निरन्तर होने लगे॥ जब मेने मन ही मन आप से प्रार्थना किया, आप से सहायता मांगे तो आप ने उस दिव्य कलस को पकड़ के तेजी से मुझपर उर्जायों के बरसात बरसाने लगे, यह बरसात, पीला रंग के थे, स्वर्ण मुद्राओं के भी थे, दुधि रंग के थे, ये कलस बीच बीच में माँ जगत जननी की प्रतिमा बन जाते थे और मेरे सिरपर दिव्य आशीर्वाद बरसाते थे, यह अनुभूति माला जप पूर्ण होने तक निरन्तर चला है, मन इतनी प्रसन्न हैं कि मानो देवी माँ के गोदमें सचमुच मैं बैठे हूँ॥ गुरुजी मुझे आशिर्वाद प्रदान करें ये अनुभूति मेरे अनन्त काल तक रहें॥ आप का धन्यवाद है॥

मैंने कभी सोचा भी नही की भगवती के इतने दुर्लभ दर्शन कभी इतने आराम से हो सकते हैं………….. नीरजा, नोएडा
राम राम गुरुजी दनवरात्र विदेश देवी साधना सिद्दी अनुभूति। 18 अक्टूबर 20 गुरुजी प्रथम दिन ही अद्भुत ,अवर्णीय और अकल्पनीय है। मैंने कभी सोचा भी नही की भगवती के इतने दुर्लभ दर्शन कभी इतने आराम से हो सकते हैं। आप सचमुच माँ स्वरूप ही सभी साधको को सिद्धि करा रहे हैं।
अपने मन्त्र जाप कि दूसरी माला करते करते ही जब आप निर्देश दे रहे थे तो मेरी कुंडलिनी शक्ति में जबरदस्त ऊर्जा प्रवाह हो रहा था और मेरी गर्दन पूरी पीछे की तरफ मुड़ गयी थी। उसी समय देवी भगवती नें अपने ” शेर पर सवार अष्टभुजा वाले सुंदरता से परिपूर्ण दर्शन दिए। गुरुजी लिखना लगभग असंभव है इन अनुभूतियों को यहां शब्द देना। माँ भगवती के एक हाथ में महिषासुर का धड़ दूसरे हाथ से वरद हस्त और उसके साथ सभी अन्य हस्त में विभन्न अस्त्र ,शंख ,यह मेरी उम्मीद से भी ज्यादा मिलना है। और बहुत देर तक माँ ने मुझे यह दर्शन दिए । उसके बाद और भी सबसे ज्यादा विशाल देवी का “विश्वरूप”रूप मुझे कल अपने थर्ड ऑय में प्राप्त हुआ। देवी ने पिंक कलर की साड़ी और नीले रंग का ब्लाउज़ पहना था।सोने का मुकुट था और एक के बाद एक एक करके देवी के पीछे रूपो का विस्तार होता जा रहा था। जैसे महाभारत में भगवान कृष्ण ने अपने पूर्ण स्वरूप के दर्शन दिए थे उससे भी ज्यादा माँ ने विस्तार दर्शन दिए। एक समय के बाद वो इतना बड़ा हो गया कि मेरी चेतना को समझ ही नही आ रहा था। उस समय आंनद,शांति ,प्रेम श्रध्दा ही महसूस हो रही थी गुरुजी। थोड़ी देर बाद तीसरे नेत्र में मुझे ऊर्जा से बना छोटा शिवलिंग नजर आता ,उसमें से केवल प्रकाश निकल रहा था,छोटे छोटे कणों में उर्जाये बह रही थी ब्रह्मांड में । इतने अद्भुत दर्शन पाकर गुरुजी धन्य होंने के अहसास के अलावा कुछ शेष नहीं बचता जीवन में। आपको प्रणाम है ,कोटि कोटि नमन हैं। और साधना के अंत तक आते आते देवी शैलपुत्री के अवर्णित दर्शन ऐसे हुए की बता नही सकती । मुझे सच में लगा कि वह मेरे बिल्कुल सामने ही बैठी हैं। उन्होंने एक दम सफेद सिल्क की बनासरसी जैसे साड़ी पहने थे ,लाल रंग का ब्लाउज था और हल्के पीच रंग की चुनरी थी। उनके हाथ बिल्कुल समीप थे मेरे,मैने स्पष्ट देखा। वह कुछ हमारे स्थूल शरीर जैसा तो थे पर उर्जायों का विस्फोट हो रहा था कि लग रहा था वो केवल ऊर्जा से बने हैं। मतलब उनमें से ऊर्जाएं बाहर स्पष्ट दिख रही थी। और गुरुजी इतना सुंदर सफेद आभायुक्त कमल माँ के हाथ में था जो केवल दर्शन हो जाये तो जीवन ही सफल हो जाये। मुझे हल्की सी हल्दी की महक भी आ रही थी अपने आस पास। मुझे पता है कि मैंने न्याय नहीं करा है शब्दो के साथ भगवती के दर्शन जब आपको लिख रही हूँ ।आप ही भगवती से पूछ लेना । परन्तु जीवन में इतनी दुर्लभ साधना का मेरा तो कल ही दिन सफल हो गया। पूरी साधना में जो भी होगा वो भी उच्चत्तम ही होगा आपके आशीर्वाद से परन्तु कल ही मेरी साधना का फल मुझे मिल गया है। मैं अभी भी आंख बंद करके उस न भूलने वाली दिव्यता से जुड़ कर मन ,आत्मा को तृप्त कर सकती हूँ। मेरे गुरुजनों का , प्रारब्ध का धन्यवाद जिन्होंने आपसे जोड़ा है । चरणस्पर्श

किसी के पैरों की आहट सुनाई दे रही थी………….. सीता कुकरेजा, इंदौर, एमपी
Date 21 October 🌹👏 राम-राम गुरुवर कोटि-कोटि प्रणाम चरण स्पर्श आपके आशीर्वाद से साधना पूर्ण हुई आनंदित होकर गुरुवर जैसे ही आपने साधना शुरू करवाई वैसे ही अचानक इसी शक्ति ने मेरे सर से दुशाला हटा दिया और क्रॉउन चक्र से तेजी से ऊर्जा का दिव्य प्रकाश प्रवाहित होने लगा ऐसा लग रहा था मानो ऊर्जा से स्नान हो रहा है मन शांत कोई विचार नहीं शरीर एकदम आनंदिता रोम रोम शांत मंत्र जाप शुरू करते ही ऐसा लग रहा था मानो पूरे शरीर का रोम रोम साथ में मंत्र जाप कर रहा है स्पेशली क्रॉउन चक्र ब्रेन फोरहेड बेक हे ड , आज्ञा चक्र, के द्वारा मंत्र जाप महसूस हो रहा था कानों में मंत्र जाप की ध्वनि एकदम साफ साफ सुनाई दे रही थी वातावरण बहुत ही मधुर था किसी के पैरों की आहट सुनाई दे रही थी एवं प्रसादी ग्रहण किया गया था शायद मां का आगमन हुआ था मुझे मां के दर्शन नहीं हुए गुरु जी आपका बहुत-बहुत धन्यवाद कोटि कोटि प्रणाम जय माता दी

चारों तरफ एक भीनी भीनी खुशबू पहले हुई थी पायलों की आवाज आने लगी…….. Sita kukreja, Indore, MP
Date 22 October 👏🌹 राम-राम गुरु कोटि-कोटि प्रणाम चरण स्पर्श कल साधना में गुरुजी काफी आनंद आया आपके आशीर्वाद से साधना बहुत ही आराम से पूर्ण हुई साधना के दौरान ऐसा लग रहा था मानो कोई मेरे पास में आकर बैठा है पता मेरे साथ साथ मंत्र जाप कर रहा है मेरे शरीर में मंत्र जाप शुरू करते ही एकदम स्थिरता एवं शीतलता आ गई थी चारों तरफ एक भीनी भीनी खुशबू पहले हुई थी पायलों की आवाज आने लगी और आंखों के सामने दो आंखें दिखाई दे शरीर का एक-एक अंग एक एकऊर्जा चक्र , रोम-रोम सेमंत्र जाप चल रहा था स्पेशली spine मैं ऊर्जा का प्रभाव बहुत तेजी से था गुरुजी मां के दर्शन कराइए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद कोटि कोटि प्रणाम जय माता दी

मां की अनुभूति शरीर में महसूस हो रही थी……… Sita kukreja, Indor, mp
Date22 October 🌹👏 राम-राम गुरुवर कोटि-कोटि प्रणाम चरण स्पर्श गुरुवर आप के आशीर्वाद से कल की सामना सफलतापूर्वक पूर्ण हुई साधना के दौरान मन काफी आनंदित उत्साहित प्रसन्नता चारों ओर वातावरण काफी मोहक था कक्ष महक रहा था मंत्र जप के साथ-साथ सारे शरीर एवं प्रत्येक रोम छिद्र से मंत्र जाप का एहसास हो रहा था मां की अनुभूति शरीर में महसूस हो रही थी किंतु वहां का साक्षात्कार ना हो पाया सभी ऊर्जा चक्र में स्पाइन में पांव के तलवों में एनर्जी का प्रवाह काफी था आपका आशीर्वाद मां की कृपा दादा गुरु का आशीर्वाद इसी तरह हम शिष्यों पर बना रहे हैं धन्यवाद जय माता दी राम राम राम राम

मां अपने अंदर समाती हुई महसूस हो रही थी धीरे धीरे वह अपने होने का एहसास करा रहे थे…… Sita kukreja, Indore, mp
Date 24 October 🌹👏 राम-राम गुरुवर कोटि कोटि प्रणाम चरण स्पर्श गुरुवर आप हमारे गुरु नहीं भगवान है हमारी कल्पना से परे आप हमें वह सब कुछ अनुभूतियां करवाते हैं जिसकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते कल गुरुजी साधना के दौरान जैसे ही मंत्र जाप शुरू किया वैसे ही शरीर एकदम शांत ऐसा लग रहा था मानो हिमालय पर साधना कर रहे हैं चारों तरफ ठंडी लहर चल रही थी मन प्रसन्न चित्त शांत मंत्र उच्चारण के साथ साथ शरीर का रोम रोम मंत्र जाप कर रहा था चारों तरफ मंत्रों का गुंजन था गुरुवर जैसे ही कनेक्टिविटी हुई वैसे ही मां अपने अंदर समाती हुई महसूस हो रही थी धीरे धीरे वह अपने होने का एहसास करा रहे थे कभी पायल की आवाज कभी सर से पल्लू हटाना मेरे तथा शरीर में गुदगुदी करना हंसी की आवाजें आने लगी चारों तरफ आनंद ही आनंद महसूस हो रहा था कोई ऐसा लग रहा है सब कोई अदृश्य शक्ति से हमारी कनेक्टिविटी ऊपर से है और मैंने प्रसाद ने जो मिठाई रखी थी मुझे बड़ा ताज्जुब हो रहा है गुरु जी की प्रसाद मैंने रखा था उस डब्बे में से एक पूरा का पूरा पीस मिठाई का जब मैंने साधना पूरी करें देखा नहीं था मां प्रसाद ग्रहण करके गई थी उसका फोटो भी आपको सेंड कर रहे हैं कोटि-कोटि नमन हर उस चीज के लिए आपका धन्यवाद जो हमने आपसे ग्रहण की हम शिष्य के रूप में धन्य हो गए जय माता दी गुरुवर कक्ष में भी हवन की सामग्री की खुशबू फैली हुई थी मधुर संगीत बहुत ही बहुत ही बहुत आनंद वाला माहौल था आपके आशीर्वाद से साधना पूर्ण हुई है यज्ञ भी कर दिया आपका बहुत-बहुत धन्यवाद कोटि-कोटि नमन

देवी साधना-मंत्र जाप के दौरान पूरे शरीर में तीव्र एनर्जी के झटके महसूस हो रहे थे और अष्टगंध की खुशबू आ रही थी……….. रुपसिंह यादव,रायगढ़(छ.ग.)
18/10/2020 राम राम गुरुजी ।आपके मार्गदर्शन एवं दिन-रात के अथक प्रयासों से मेरी राज राजेश्वरी साधना निर्विघ्नता के साथ सम्पन्न हुई। मैंने अपने जीवन में पहली बार किसी गुरु का, शिष्यों के प्रति इतना समर्पण देखा है।हम सभी शिष्य आपके बहुत बहुत आभारी हैं । जीवन में किसी सद्गुरु का मिलना बहुत ही सौभाग्य की बात है । यह मृत्युंजय योग परिवार के सभी लोगों का परम सौभाग्य है कि उन्हें आप जैसे गुरु मिले हैं, जो सभी शिष्यों को अपना ही परिवार और संतान समझते हैं । मैं यह बात इसलिए कह रहा हूँ, क्योंकि मैं 14 वर्षों से अध्यात्म के पथ पर भटक रहा था । विभिन्न गुरुओं पर लाखों रुपये खर्च कर उल्टी-सीधी साधनायें करता रहा एवं कई शिविर लगाये हैं । गुरुदेव आप सर्वज्ञ हैं, आप मेरे भूतकाल को देख सकते हैं कि मैं झूठा नहीं हूँ । यद्यपि मेरे समर्पण एवं विश्वास में कोई कमी नहीं थी , फिर भी मैं दुर्भाग्य से यहां वहां भटकता रहा ।अब आप सौभाग्य से मिल गये हैं, मेरे जीवन को सार्थक बना दें, यही प्रार्थना है ।आपको मेरा कोटि कोटि नमन ।शिव शरणं, शिव शरणं, शिव शरणं ।

अलग अलग आवाज आ रही थी………… Roky, Rohtak
Ram Ram guru ji Shiv shrnm guru shrnm 21 Oct 2020…guru dev aaj ki sadhna Anandmay rhi…vichar aate rhe jate rhe..2 bar bhut jyada energy ho gyi thi bhut grmi lg rhi thi..psine aa gye the..fir thand k mare chhink bhi aa gyi…mala jap jldi jldi ho rha tha..ek bar bhut tej bd _bd_kht_kht ki aavaj bahr ki side kone m..lga koi jor se mar rha h fiber pr…agr kuchh vha phle hota to bad m bhi aavaj aati ya phle bhi aati..mgr esa nhi huaa..jb guru ji aapne kha m ma ko apne aabhamndl m bula rha hu tbhi mere third eye hlka pressure tha..gudgudi ki trh..ekdm grmi mhsus hone lgi…eske alawa aaj subh sokr uthhi to esa spna aaya tha ki m or mere sath koi sadhna kr rha h…uske bad koi chhoti ldki chhup kr dekhti h hmare pass aati h…dusra khta h vo meri h..tbhi do chhti chhoti bchiya chup chup kr dekh rhi thi..ek ne to sfed kpde phne the..dusri ka dhyan nhi…vo dono mere pass aayi unhone kha aapke pas rhna h…aapne kyu bulaya h..m unko dusri jgh le jati hu hath pkd kr or khti hu mujhe aap logo se bat krni h…hm bethhe h tbhi koi aata h bike vo unko le jane m soch rhi hu m unko bcha rhi hu..jbki vo mujhe bcha rhi thi mujhe us dusht vykti se…dusra jb m dophar m sone k liye leti to guru Dev aapke drshn huye…aap aaye mere upr pipl k ped se kuchh gira or meri body vibrate krne lgi…lgbhg uncontrol thi…m aapke pero m gir gyi or shant ho gyi…mene aapko btaya to aapne kha..pipal k ped se shktiya milti h…tbhi aapko m kisi chardiwari k andr lati hu jha m rhti hu…vha light nhi or na hi koi or h…m drwaje kholti hu..meri ma dikhti h..light nhi jlti….aap kinch rhe h mujhe…m kh rhi hu aap mujhe kyu dukh devrhe ho guru Dev…m janti hu eske pichhe jrur koi karn hoga…m aapko kushti ka dav fittle lgati hu..or aap bed gir jate m aapse puchhti hu khi aapko chot to nhi lgi gurudev aap thik h na…m aankhe khuli to sch m meri body buri trh vibrate kr rhi thi…jese sch m mene kushti ki h..mere andr bilkul himmt nhi bchi thi…2 se 3 ghnte tk buri trh vibration hoti rhi guru Dev…pta nhi ye kese spne aane lge h mujhe…guru dev dya kre.. smst sadhna, spne ,vichar shri Shiv arpnm astu

घर में सब जगह बहुत अछि खुशबु आ रही थी…….. Roky,Rohtak, Haryana
Ram Ram guru Dev Shiv shrnm guru shrnm 22/10/2020, aaj ki sadhna Anandmay rhi..third eye pr sadhna se phle se hi hlka hlka drd tha..kbhi thik ho rha tha..kbhi bdh rha tha…ma k sath connect hone ki bat kh rhe the tbhi golden energy blink ho rhi thi…eske alawa bhut pressure tha energy ka jese puri energy n mujhe dhk liya ho..crown chkkr pr bhi bhut pressure tha…kl ki apeksha aaj vichar mn m na k brabr hi the…aaj esa lg rha tha jb sadhna se uthhi to ulti aane ko ho rkhi thi.. pr esa huaa nhi…bad m normal ho gya…mujhe bhut achhi khusbu aa rhi thi…jese ghee ki mithhe mithhe pkwano ki..rsoyi m bhi aa rhi thi…mere room m bhi or bad m mere andr se bhi aane lgi….🙏 guru Dev hm sb pr sdev apni kirpa bnaye rkhe 🙏🏻 Ram Ram Shiv shrnm guru shrnm 🙌🏻 Hr Hr Mhadev

Ram Ram guru Dev Shiv shrnm guru shrnm 23/10/2020Roky,Rohtak, Haryana aaj ki sadhna Anandmay rhi guru Dev….aaj jb phli mala ka aap jap krwa rhe the to aaj tbhi mala m ganthh lg gyi thi vo bhi 2 jgh ..jb m unko suljha rhi to uski ganth or ghri hoti ja rhi.. esa lga mala tut hi na jaye…tbhi mene ma jane anjane huyi gltiyo ki mafi mangi or bde hi pyar se ek hi shbd kha…Maaa..or tbhi meri mala ki ganthh khul gyi…baki sadhna prbhu or ma ki kirpa se nirvighn purn huyii…mujhe jo vichar mn m aaye usme ma ka chehra bda hi drawna tha…usme esa lga ma kali ranchandi jese chl rhi h yudh k medan m dusto ka snhar krne…tbhi lga ma n mujhe per se fek diya lekin Shiv guru ji n mujhe pkd liya…esa lga lga Shiv guru unhe kh rhe h ….ye meri bchhi h..to fir esa lga Kali ma mere sir hath fer kr dular rhi h…or last mala k last mnke k sath hi ek bar hi trinetr m gudgudi huyi…or sadhna aaj ki purn huyi..🙏🏻 hm sb pr sdev apni kirpa bnaye rkhe guru Dev Shiv shrnm guru shrnm 🙌🏻 Hr Hr Mhadev Hr Hr Mhadev